You are here: Home

साथी डॉ0 ने कराया था एसिड हमला Featured

Written by  Published in Crime Against Women Friday, 26 December 2014 10:53

नई दिल्ली।। महिला डॉ पर एसिड हमला मामले में खुलासा हुआ है कि एसिड हमला महिला डॉ0 के मित्र जो खुद पेशे से डॉ0 है ने ही कराया था। दोनो डॉ0 पूर्व में अच्छी मित्र रहे थे। पुरूष डॉ0 ने प्रेम में नाकाम रहने पर साथी 30 वर्षीय महिला डॉक्टर पर एसिड हमले की साजिश रची। डॉ0  को गुरुवार को तीन अन्य लोगों के साथ गिरफ्तार किया गया, जिनमें से दो नाबालिग हैं।

पुलिस ने बताया कि डॉ अशोक यादव और एसिड हमले की शिकार महिला ने रूस से एमबीबीएस की पढ़ाई की थी। दोनों एक दूसरे को करीब 10 साल से जानते थे और कभी ‘‘अच्छे दोस्त’’ हुआ करते थे।

पुलिस के अनुसार डॉ यादव मायापुरी का रहने वाला है। वह महिला से विवाह करना चाहता था और दो-तीन बार उसके सामने प्रस्ताव रख चुका था, लेकिन महिला ने हर बार उसका प्रस्ताव ठुकरा दिया।

दिल्ली पुलिस के संयुक्त आयुक्त तजेन्दर लूथरा ने यहां संवाददाताओं को बताया, ‘‘कि उसे हाल ही में मालूम हुआ कि महिला के परिवार के सदस्य उसकी शादी कहीं और करने वाले हैं। इससे नाराज होकर उसने पीड़िता को सबक सिखाने की ठान ली। उसने अपने करीबी मित्र वैभव, जो पहले उसके साथ काम करता था, को इस काम में अपने साथ मिला लिया।

लूथरा ने बताया कि नारायणा के एक कॉल सेंटर में काम करने वाले वैभव ने उसे बताया कि वह कुछ ऐसे लोगों को जानता है जो उसकी साजिश को अंजाम दे सकते हैं।

पुलिस ने बताया कि वैभव दो किशोरों से मिला और इस काम के बदले में 25,000 रूपए देने की बात पर सौदा पक्का हुआ। वैभव ने उन दोनों को 22,000 रूपए एडवांस दिए। योजना को अंजाम देने में कोई कमी न रहे इसलिए डॉ यादव ने इसका परीक्षण भी किया।

लूथरा ने कहा, ‘‘यादव अपनी योजना को सफल बनाना चाहता था। इसके लिए उसने आरोपी किशोरों की मदद से हमले का परीक्षण भी किया। यादव ने किशोरों से कहा कि वह परीक्षण के तौर पर एक सिरिंज में पानी भरकर उसपर डाले।’’

यादव ने लड़की पर 17 दिसंबर को तेजाब फेंकने की योजना बनाई थी, लेकिन उस दिन वह कार इस्तेमाल कर रही थीं, इसलिए यादव की योजना अमल में नहीं आ पाई।

पुलिस ने बताया कि पीड़िता को डॉ यादव पर इतना भरोसा था कि जब पुलिस ने पूछताछ के लिए उसे बुलाया तो पीड़िता ने अधिकारियों से कहा कि अगर उन्होंने यादव से पूछताछ की तो वह अपना केस वापस ले लेगी।

जांच के दौरान पता चला कि आरोपियों (नाबालिग) ने पीड़िता का उसके घर से पीछा किया। यादव ने शुरू में इस अपराध में अपनी संलिप्तता से इंकार किया था, लेकिन बाद में उसने अपना अपराध कुबूल कर लिया।

पीड़िता के परिवार के सदस्य उसके ‘‘सबसे अच्छे मित्र’’ की करतूत के बारे में जानकर स्तब्ध रह गए।

Read 548 times

Login to post comments

ফটো গ্যালারী

আপগ্রেড করুন

Contact Us

Rrgd. Office: 13/9 BC Road, Malda-732102,India

KolKata Office:  177/6 Indrapuri, Belgharia,Kol-56

Business Office : B203,Vijay Garde,Thane,Mumbai-4000615

Email : This email address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it.

             Face book : facebook.com/akantoapan.news

Help line No- 09434219594/9126173604 

About Us

Live Aap is one of the renowned media group in print and web media. It has earned appreciation from various eminent media personalities and readers. liveaapnews of the best multi language news websites in India that provides full coverage of latest news and breaking news in India & all over the World.