Share on whatsapp
Share on twitter
Share on facebook
Share on email
Share on telegram
Share on linkedin

कोरोनावायरस : करोड़ों के अस्पताल में महंगी हाईटेक मशीनें, लेकिन टेक्नीशियन रखना भूल गई यूपी सरकार

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on email
Share on telegram
Share on linkedin

लखनऊ: 

पूरे देश में कोरोना की दूसरी लहर ने तबाही मचा रखी है. उत्तर प्रदेश में भी कोरोना के लगातार तेजी से मामले बढ़े हैं. राज्य सबसे ज्यादा मामले दर्ज करने वाले राज्यों में से एक है. यहां भी स्वास्थ्य सेवाओं की हालत खस्ताहाल होती दिख रही है. और यहां स्वास्थ्य सेवाएं क्यों चरमरा रही है, इसका एक उदाहरण है गोंडा जिले का एक कोविड अस्पताल. इस अस्पताल का उद्घाटन कोविड के लिए खासतौर किया गया, लेकिन आज यह अस्पताल बहुत मदद करने की स्थिति में नहीं है.पिछले साल इस अस्पताल का जोर-शोर से उद्घाटन करके मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने सुर्खियां बटोरी थीं. 160 बेड के इस अस्पताल में टाटा ट्रस्ट और बिल गेटस फाउंडेशन ने मिलकर निर्माण किया है. अस्पताल में 200 करोड़ की मशीनें भी लगाई गईं हैं, यहां 16 वेंटीलेटर भी लगा दिए गए, लेकिन विडंबना यह कि यूपी सरकार इसमें टेक्नीशियन रखना भूल गई. लिहाजा वेंटिलेटर चलाने वाला ही कोई नहीं है.

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on email
Share on telegram
Share on linkedin
advertisement

Latest News