Share on whatsapp
Share on twitter
Share on facebook
Share on email
Share on telegram
Share on linkedin

खोरीबाड़ी प्रखंड के बतासी बलाईझोड़ा स्थित बड़ा काली मंदिर में श्रद्धालुओ ने  पूजा अर्चना किया

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on email
Share on telegram
Share on linkedin

खोरीबाड़ी। मकर संक्राति के अवसर पर आयोजित खोरीबाड़ी प्रखंड के बतासी बलाईझोड़ा स्थित बड़ा काली मंदिर में श्रद्धालुओ ने कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करते हुए पूजा अर्चना किया । शनिवार सुबह से ही बिहार, बंगाल के विभिन्न क्षेत्रों से श्रधालुओ ने पहुंच पूजा अर्चना किया । उल्लेखनीय है की पिछले 47 वर्षो से मकर संक्रांति के अवसर पर पुजा का आयोजन किया जा रहा है । बड़ा काली मंदिर कमिटी के सचिव अमल मंडल ने बताया कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करते हुए काली माता का पूजा अर्चना किया गया । हालांकि कोरोना काल के मद्देनजर मेले का आयोजन नहीं हो सका । उन्होने बताया स्थानीय अश्विनी कुमार दे ने 1975 ई में बतासी स्थित बलायझोरा में बड़ा काली मंदिर स्थापित किये । स्थापना के समय में बड़ा काली माता की प्रतिमा 35 हाथ की ऊंचाई के बराबर निर्माण किया जाता था । परंतु कुछ वर्षों से अब 22 हाथ की प्रतिमा निर्माण की जाती है। कमिटी के अध्यक्ष प्रभात मंडल ने बताया 1975 से ही प्रत्येक वर्ष मकर संक्रांति के रात बारह बजे पूजा की आयोजन की जा रही है । इस वर्ष भी मकर संक्रांति के रात बारह बजे मां काली का विधिवत पूजा अर्चना किया गया । कोरोना काल के कारण मेला का आयोजन नहीं हुआ । पुजा अर्चना के दौरान कोरोना प्रोटोकॉल के तहत सामाजिक दूरी, मास्क व सेनिटाइजर का इस्तेमाल पर पूरा ध्यान दिया गया । पूजा आयोजन को सफल बनाने को लेकर कमिटी के अध्यक्ष प्रभात मंडल, कोषाध्यक्ष विश्वजीत मंडल सहित कमिटी के अन्य सभी कार्यकर्ता जोर – शोर से लगे हुये दिखे ।

Share on whatsapp
Share on facebook
Share on twitter
Share on email
Share on telegram
Share on linkedin
advertisement

Latest News