शनिदेव की कृपा पाने के लिए शनिवार के दिन इन मंत्रों का जाप करें

शास्त्रों के अनुसार शनिदेव न्याय के देवता हैं। अगर आप सही रास्ते पर चलेंगे तो वह हमेशा आपके साथ रहेंगे।
“ओम शं शनैश्चराय नमः”

इंसान या भगवान! कोई नहीं चाहता कि शनिदेव की नजर उस पर पड़े। कौन नहीं जानता कि शनिदेव की नजर पड़ते ही जीवन अस्त-व्यस्त हो जाता है! लेकिन आदि ज्योतिष के अनुसार इस स्थिति से छुटकारा पाने के कुछ उपाय हैं। ऐसी ही एक प्रक्रिया है शनिदेव के कुछ मंत्रों का श्रद्धापूर्वक जाप करना। यदि आप इसे सही तरीके से नियमित रूप से कर सकते हैं, तो आपके जीवन में शनि के प्रभाव की तीव्रता कुछ हद तक कम हो सकती है।

मंत्र
• सभी दुखों और दुर्भाग्य को दूर करने के लिए आपको हर शनिवार सुबह स्नान करके इस मंत्र का जाप करना चाहिए।
मंत्र – “ओम प्रांग प्रीं प्रौं सः शनिश्चराय नमः”

• जीवन से नकारात्मक ऊर्जाओं को दूर करने और अच्छे परिणाम पाने के लिए इस मंत्र का जाप करें – “ओम त्र्यंबकम यजामहे सुगंधम पुष्टि-वर्धनम उर्बारुका मिव बंधनम अत्रमुक्षीय मा मृतात”

• जीवन में सुख-समृद्धि कौन नहीं लाना चाहता! लेकिन कई बार यह इच्छा पूरी नहीं हो पाती है तो ऐसे में हर शनिवार को शनिदेव के सामने बैठकर तिल के तेल का दीपक जलाएं और इस मंत्र का जाप करें।
– “शजायं च वर्तिशनैयक्तं बह्निना यजितं मया दीपं गृहं देवासं त्रिलोकिय तेमिर पहम्”

जीवन के किसी भी क्षेत्र में सफलता के लिए इस मंत्र का जाप करें- ‘ॐ शं शनैश्चराय नमः’।

ऐसी और खबरें पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Related Post