स्वस्थ शरीर में ही स्वस्थ मस्तिष्क निवास करता है: डॉक्टर मंजीत भाटिया

खोरीबाड़ी। एसएसबी 41वीं वाहिनी रानीडंगा द्वारा नागरिक कल्याण कार्यक्रम के अंतर्गत सीमाचौकी मियाबस्ती में सीमावर्ती क्षेत्रों के आर्थिक रूप से कमजोर किसानों को कृषि सामग्री का वितरण एवं मानव चिकित्सा शिविर कार्यक्रम सफलतापूर्वक संपन्न हुआ । उक्त कार्यक्रम का उद्घाटन कार्यक्रम के मुख्य अथिति डॉक्टर मंजीत भाटिया कमांडन्ट (मेडिकल) 41वीं रानीडंगा की उपस्थिती में आयोजित हुआ। कार्यक्रम के आरंभ में त्रिभुवन प्रसाद उप कमांडेंट ने कार्यक्रम की रूपरेखा एवं पृष्ठभूमि से अवगत कराया । इसके उपरांत कार्यक्रम के मुख्य अतिथि डॉक्टर मंजीत भाटिया कमांडन्ट (मेडिकल) 41वीं वाहिनी ने अपने सम्बोधन में उपस्थित जनसमूह को इस कार्यक्रम के लक्ष्य एवं इसकी उपयोगिता के बारे लोगों को अवगत कराया। मुख्य अथिति ने अपने सम्बोधन में बताया की जरूरतमंद किसान वितरित किए जाने वाले कृषि सामग्री से अपने खेती के काम को आसानी के साथ कर पाएंगे साथ ही अपने कृषि कार्य की क्षमता को गति दे पाएंगे जिससे उनकी आर्थिक एवं सामाजिक तरक्की का मार्ग प्रशस्त होगा। मुख्य अथिति ने बताया की चिकित्सा शिविर के माध्यम से यहाँ के लोगों का मुफ़्त इलाज किया गया और परामर्श के अनुसार दवाईयां बांटी गई। अतः जरूरतमंद लोग इससे लाभान्वित हो । मुख्य अथिति ने लोगों को बताया कि स्वस्थ शरीर में ही स्वस्थ मस्तिष्क निवास करता है यह कहावत नही वास्तविकता है इसलिए सभी जन अपने स्वास्थ के प्रति सजग रहना चाहिए व धूम्रपान एवं नशे से दूर रहना चाहिए । उन्होंने विश्वास जताया कि भारत सरकार तथा सशस्त्र सीमा बल का यह कदम निश्चित ही सीमा क्षेत्रों के विकास कार्य में उपयोगी साबित होगा। इस कार्यक्रम में 41वीं वाहिनी के अधिकारी त्रिभुवन प्रसाद उप कमांडेंट 41वीं वाहिनी, समवाय प्रभारी मदनजोत, वारिसजोत और ढकनाजोत गाँव के मुखिया व अन्य गणमान्य लोग उपस्थित थे ।
साथ । कार्यक्रम में 42 जरूरतमंद किसानों को कृषि सामग्री जैसे फावड़ा, गैती व खुरपी (कुदाल) मुख्य अतिथि द्वारा वितरित किया गया साथ ही आयोजित चिकित्सा शिविर में लगभग 300 लोगों का ईलाज किया गया व जीवनरक्षक दवाईयां बांटी गयी। उपस्थित लोगों ने इस कार्यक्रम के आयोजन के लिए एसएसबी की सराहना की और भविष्य में सहयोग देने का आश्वासन दिया।

Latest News

ऐसी और खबरें पाने के लिए सब्सक्राइब करें