2025 तक  टीबी मुक्त करने के भारत सरकार के लक्ष्य को देखते हुए खोरीबाड़ी स्वास्थ्य विभाग भी तत्पर है

खोरीबाड़ी:  2025 तक भारत को टीबी मुक्त करने के भारत सरकार के लक्ष्य को देखते हुए खोरीबाड़ी स्वास्थ्य विभाग भी तत्पर है। इसी कड़ी में सोमवार को खोरीबाड़ी ग्रामीण अस्पताल की ओर से दूधगेट स्थित दुलालजोत नेपाली प्राथमिक स्कूल में टीबी मुक्त बांग्ला को लेकर कार्यक्रम का आयोजन किया गया । कार्यक्रम के दौरान लोगो को जागरूक करते हुए टीबी रोगियों के बीच खाद्य सामाग्री वितरित किया गया। खोरीबाड़ी ब्लॉक स्वास्थ्य अधिकारी शफीउल आलम ने बताया 2025 तक टीबी मुक्त देश घोषित करने की भारत सरकार का लक्ष्य है। टीबी मुक्त भारत तभी संभव है जब प्रत्येक व्यक्ति क्षय रोग के प्रति जागरुक हो। टीबी के लक्षण आने पर तत्काल जांच कराई जाए। एक भी व्यक्ति यदि टीबी संक्रमण को मामूली खांसी मानकर जांच कराने में एक-दो महीना देर कर देता है तो वह संपर्क में आने वालों को संक्रमण देता रहता है। मद्देनजर खोरीबाड़ी प्रखंड इलाके में भी टीबी मुक्त बांग्ला कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है। उन्होंने बताया प्रखंड के विभिन्न इलाकों में कार्यक्रम का आयोजन कर लोगों को जागरूक किया जाएगा । सोमवार को दूधगेट स्थित दुलालजोत नेपाली प्राथमिक स्कूल में कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में लोगों को जागरूक करते हुए करीब 10 टीबी रोगियों के बीच खाद्य सामाग्री वितरित किया गया। उन्होंने बताया टीबी रोग के लक्षण देखें जाने पर कफ लेकर जांच किया जा रहा है। तत्काल टीबी रोगियों के चिन्हित हो जाने पर फैलने की आशंका कम हो जाती है। जागरूकता कार्यक्रम सभी उप स्वास्थ्य केंद्रों सहित विभिन्न स्कूलों में भी आयोजित किया जाएगा। 2025 तक इलाके को टीबी मुक्त करने को लेकर हरसंभव तत्पर है।

 

Latest News

ऐसी और खबरें पाने के लिए सब्सक्राइब करें